Feeds:
पोस्ट
टिप्पणियाँ

Archive for मार्च 2nd, 2007

सूर्यगायत्रि नाम की एक ब्लोगर की साहित्यिक की चोरी कर्ने के बाद बोल्ते हैं  कि यह चोरि वेब दुनियांवालों ने की। जब सूर्यगायत्रि की पोस्ट याहू मलयालम पन्ने पर आया तब वेब्डुनिया का नाम निशान भी उस पन्ने पर नहीं था।
A blog post of Suryagayathri copied by yahoo

Moong ki dal kari 

अब सारे के सारे जिम्मेवारि वेबदुनियां वालों के उपर डाल्कर याहू जो हैं अप्ने हाथ साफ कर रहे हैं। क्या यह् न्याय हैं?

Palgiarism from Puzha.com

 यह् चित्र Puzha.com सैट से साहित्यिक चोरि किया हुआ हैं। याहू ऐसे गलतियाँ कर्ते रहें और हम चुप रहें। नहीं कभी नहीं हम सबको बतायेग याहू ने रचना चुराया हैं और उनके खिलाफ नारे लगाओ कि याहू चोर हैं।

इसी महीने की 5 (5-03-2007)तरिख को यहू के खिलाफ आवाज उठायेंगे अपने ब्लोगों में। आप लोग भी अपने अपने स्रुष्टियों के ऊपर जरा ध्यान दें।

Advertisements

Read Full Post »